नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के नियमों की पालना करते हुए अवैध मोबाइल टावरों को न लगने दें : उपायुक्त विक्रम सिंह

सम्बंधित विभाग की जो भी जिम्मेदारी है उसे निर्धारित समय पर करें पूरा, दिए आदेश

फरीदाबाद : उपायुक्त विक्रम सिंह की अध्यक्षता में लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में जिला फरीदाबाद में लंबित राष्ट्रीय ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के केसों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। जहां उन्होंने अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि राष्ट्रीय ग्रीन ट्रिब्यूनल पर्यावरण के केसों का निपटान अधिकारी गंभीरता से करें। डीसी विक्रम सिंह ने एनजीटी के केसों की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को राष्ट्रीय ग्रीन ट्रिब्यूनल की हिदायतों के अनुसार ज़रूरी दिशा-निर्देश भी दिए।

उपायुक्त विक्रम सिंह ने राष्ट्रीय ग्रीन ट्रिब्यूनल पर्यावरण के केसों समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के पर्यावरण सम्बंधित केसों का निपटान अधिकारी समयबद्ध तरीके से धरातल पर निरीक्षण करके पूरा करें। ड्रेनज सिस्टम आउट सीवर लाइन की सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के आदेश दिए। मेडिकल वेस्ट के डिस्पोजल व्यवस्था की जांच करें। एनजीटी के नियमों की पालना करते हुए अवैध मोबाइल टावरों न लगने दे। एयरफोर्स स्टेशन की पाइप में से अगर किसी ने अवैध कनेक्शन लिया है तो उसकी जांच कर दोषी व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाएं। डिस्पोजल के लिए इंडिपेंडेंट फीडर लगवाएं। अवैधानिक रूप किए जा रहे हैं सभी कार्यों पर तुरंत प्रभाव से कार्यवाही करते हुए ऑनलाइन प्लेटफार्म प्रणाली पर अपलोड करना सुनिश्चित करें। जिस विभाग की जो भी जिम्मेदारी है। उसे निर्धारित समय पर पूरा करना सुनिश्चित करें। वहीं उन्होंने बैठक में एनजीटी के सभी केसों की एक-एक करके विभाग वार जानकारी लेकर सम्बन्धित अधिकारी से जबाब देही के साथ समीक्षा की।

समीक्षा बैठक में एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद, एसडीएम फरीदाबाद शिखा अंतिल, एसडीएम बड़खल हरिराम, एचएसवीपी के एस्टेट आफिसर्स सिद्धार्थ दहिया, सीटीएम अंकित कुमार, एयरफोर्स स्टेशन से कैप्टन ए. कपूर सहित एनजीटी के केसों से सम्बंधित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!