बलात्कारियों और शोषणकर्ताओं की पैरवी करने वाली पार्टी भाजपा की खुली पोल !

गुरुग्राम (मदन लाहौरिया) 26 अक्टूबर। गोपाल कांडा को लेकर भाजपा हाईकमान में भारी मतभेद उभर कर आ रहे हैं! बड़ी शर्म की बात है कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का अभियान चलाने वाली भाजपा सरकार के मुखिया यदि नैतिक स्तर पर इतने गिर जाएं कि गीतिका आत्महत्या कांड में बलात्कार के केस में फंसे सिरसा से वर्तमान में जीत कर आये विधायक गोपाल कांडा का समर्थन हरियाणा में भाजपा की सरकार बनवाने के लिए लेना पड़े! नैतिकता की सभी हदें पार करते हुए सिरसा की भाजपा की महिला सांसद सुनीता दुग्गल गोपाल कांडा को समर्थन के लिए भाजपा हाईकमान के पास लेकर गई और यह बखूबी तौर पर जानते हुए कि गोपाल कांडा महिलाओं का यौनशोषण करता रहा है तथा दिल्ली के एक परिवार की बेटी गीतिका को गोपाल कांडा ने पूरी तरह बर्बाद किया हो और इस वजह से उस बेटी को आत्महत्या करनी पड़ी हो! यह अपने आप में हरियाणा के राजनैतिक इतिहास की एक बड़ी शर्मनाक घटना है!

इसी संदर्भ में जब गुरुग्राम से वर्तमान में लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़े त्रिवेंद्र उर्फ माईकल सैनी से बातचीत की गई तो उन्होंने भाजपा के इस ओछे हथकंडे पर तीव्र प्रतिक्रिया करते हुए कहा कि अटल जी के सिद्धांतों को दरकिनार कर सत्ता सुख भोगने वाले भाजपाई मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से पूछा जाये कि भाजपा इतने दिनों से हरियाणा के इन बलात्कारी और अय्याश राजनेताओं पर कार्यवाही क्यों नहीं कर रही? जनता को शक है कि ये अय्याश और बलात्कारी नेता सत्ता में बैठे शीर्ष नेताओं को भी कहीं पर महिलाओं के यौनशोषण में तो लिप्त नहीं कर रहे?

व्यंग कसते हुए माईकल सैनी ने कहा कि सुबह का बलात्कारी अगर शाम को भाजपा में शामिल हो जाए तो उसे बलात्कारी नहीं चौकीदार कहते हैं! हरियाणा में बहुमत हासिल करने के लिए भाजपा ने बलात्कारी गोपाल कांडा का समर्थन मांगा जो कि भारतीय संस्कृति और नैतिकता के खिलाफ है! माईकल सैनी ने आगे कहा कि भाजपा चाहे बलात्कारियों व हत्या आरोपियों के सहयोग से सरकार बना जाए मगर हरियाणा की जनता के दिलों में अब भाजपा के प्रति स्थान नहीं रहा! भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने भी गोपाल कांडा के समर्थन से हरियाणा में भाजपा सरकार बनाने का भरपूर विरोध किया है!

हरियाणा भाजपा के प्रभारी अनिल जैन ने भी स्वीकार किया कि गोपाल कांडा का समर्थन देने का प्रस्ताव आया था परंतु अब पार्टी में गोपाल कांडा के नाम पर विरोध होने के कारण समर्थन नहीं लिया जायेगा!

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!